"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

गुरुवार, 26 दिसंबर 2013

दुखद समाचार "श्रीमती सरिता भाटिया के जीवनसाथी नहीं रहे" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

जीवन से भरी तेरी आँखें
मजबूर करें जीने के लिए...
स्व. यशपाल भाटिया
--
मित्रों!
आठ दिसम्बर से चर्चा मंच की चर्चाकार
और जानी-मानी ब्लॉगर
श्रीमती सरिता भाटिया
निष्क्रिय थी।
इस बीच उनको कई बार फोन भी किया
परन्तु फोन मिला ही नहीं।
--
अब तक मुझे यह लगा कि
शायद व्यस्त होंगी,
मगर उनके साथ तो 9 दिसम्बर को
अनहोनी हो गयी और उनके जीवनसाथी
उनसे हमेशा-हमेशा के लिए दूर चले गये।
--
आश्चर्य की बात तो यह है कि
उनके किसी भी मित्र ब्लॉगर ने
यह दुखद समाचार 
कहीं भी प्रकाशित नहीं किया।
--
अभी एक घंटा पूर्व मैंने
श्रीमती सरिता भाटिया जी को
फोन किया तो फोन मिल गया और
साथ में यह दुखद समाचार भी।
--
श्रीमती सरिता भाटिया जी बता रहीं थी कि
श्री यशपाल भाटिया 8 दिसम्बर को 
बिल्कुल ठीक-ठाक सोये थे।
लेकिन 9 दिसम्बर को वह उठे ही नहीं।
--
मैं स्व. यशपाल भाटिया जी को अपनी
भावभीनी श्रद्धाञ्जलि समर्पित करता हूँ।
परमपिता परमात्मा से प्रार्थना करता हूँ कि
वो दिवंगत आत्मा को 
सद्गति दें और
शोक संतप्त परिवार को 
इस वज्र दुःख को 
सहन करने की शक्ति प्रदान करें
--
इस दुख की घड़ी में 
हम चर्चामंच के समस्त सहयोगी
श्रीमती सरिता भाटिया जी के दुख में सहभागी हैं।

29 टिप्‍पणियां:

  1. ईश्वर सरिता जी को ये दुख सहने की शक्ति दे ... दिवंगत आत्मा को मेरी नम्र श्रधांजलि ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. atyant dukhad samachar....hum sab sushri sarita ji ke dukh men sahbhagi hain. eishwar shri yashpal bhatia ji ki aatma ko shanti aur sarita ji tatha anya parijanon ko is aseem dukh ko wahan karne ki shakti pradaan kare !

    उत्तर देंहटाएं
  3. Yeh jaankar bahut dukh hua. Shraddha suman arpit karta hoon aur eshwar unki aatma ko shanti de yeh prarthana karta hoon.

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत दुखद समाचार .....!!ईश्वर सरिता जी को संबल दें !!दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि ...!!

    उत्तर देंहटाएं
  5. श्रद्धांजलि!

    शोक संतप्त परिवार को यह दुःख सहने की शक्ति दें प्रभु!

    उत्तर देंहटाएं
  6. ओह ! बहुत ही दुखद समाचार ! इस दुःख की घड़ी में हमारी समस्त संवेदनाएं तथा सजल भावनाएं सरिता जी के साथ हैं ! ईश्वर से प्रार्थना है कि वे सरिता जी व सभी परिजनों को धैर्य व संबल प्रदान करें ! यशपाल भाटिया जी की के लिये विनम्र श्रद्धांजलि !

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत ही दुखद समाचार है |सरिता जी और उनके परिवार को इस असीम दुःख को सहने की भगवान् शक्ति दें | दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें !

    उत्तर देंहटाएं
  8. ये समाचार हमें 9 दिसम्बर को मिला था फ़ेसबुक पर मगर मैने सोचा शायद आपको पता होगा क्योंकि आप स्वंय फ़ोन करके पूछ लेते हैं चर्चाकार से अगर वो चर्चा नही कर पाता इसलिये कुछ कहा नही वरना ये दुखद और ह्रदयविदारक सूचना जरूर देती ……मै तो खुद बेहद शाक्ड रही ये समाचार जानकर ………ईश्वर सरिता भाटिया जी और उनके शोक संतप्त परिवार को ये दुख सहने की शक्ति दे और दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे ।

    उत्तर देंहटाएं
  9. ओह. दुखद. अत्‍यंत दुखद.
    भगवान परि‍वार को असीम सहनशक्‍ति‍ दे. ॐ शॉंति‍.

    उत्तर देंहटाएं
  10. वाकई बहुत दुखद समाचार है और देर से सूचना भी !
    श्रद्धांजलि ! ईश्वर सरिता जी को इस कठिन घड़ी में धैर्य रखने की शक्ति दे !

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत दुखद समाचार .....
    शोक संतप्त भाटिया परिवार को ये दुख सहने की ईश्वर शक्ति दे !
    दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि!

    उत्तर देंहटाएं
  12. बहुत दुखद समाचार .....!!ईश्वर सरिता जी को संबल दें !!दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि ...!!
    (बहुत देर से खबर मिली!)

    उत्तर देंहटाएं
  13. Atyant hriday vidarak samachar...Ishwar se kamna hai ki saritaji n family ko sambal deve aur divangat aatma ko hamari vinamr shraddhanjali!!

    उत्तर देंहटाएं
  14. बहुत दुखद समाचार .....
    भाटिया परिवार को ये दुख सहने की ईश्वर शक्ति प्रदान करे !
    दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि!

    उत्तर देंहटाएं
  15. अत्यंत पीड़ादायी समाचार है...दिवंगत आत्मा के लिए नमन...सभी परिवार वालों को इस असीम दुःख को सहने का सामर्थ्य देना प्रभु...

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत दुखद........दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि ...!!

    उत्तर देंहटाएं
  17. दुखद। विनम्र श्रद्धांजलि।

    उत्तर देंहटाएं
  18. दुखद समाचार .....ईश्वर सरिता भाटिया जी और उनके परिवार को ये दुख सहने की शक्ति दे और दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे ।

    उत्तर देंहटाएं
  19. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  20. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  21. सचमुच बड़े खेद और शोक का है यह सनाचार ! ईश्वर मृतक की आत्मा को शान्ति और मुक्ति प्रदान करे !! श्रीमती सरिता भाटिया जी को व उनके परिवार को इस कष्ट को सहन करने की क्षमता प्रदान करे !!

    उत्तर देंहटाएं
  22. bahut hi dukhad samachar hai, bhagwan unki aatma ko shanti pradaan karen...

    उत्तर देंहटाएं
  23. ईश्वर उनकी आत्मा कों शांति दें |

    उत्तर देंहटाएं
  24. मैं स्व. यशपाल भाटिया जी को अपनी भावभीनी श्रद्धाञ्जलि समर्पित करता हूँ। परमपिता परमात्मा से प्रार्थना करता हूँ कि वो दिवंगत आत्मा को सद्गति दें और शोक संतप्त परिवार को
    इस वज्र दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें.

    उत्तर देंहटाएं
  25. DUKHAD ...SARITA JI KO PRABHU IS DUKH KO SAHAN KARNE KEE SHAKTI PRADAN KAREN .

    उत्तर देंहटाएं
  26. हाय, मेरा नाम oneworldnews है, और मैंने आप का बलौग पढा. वास्तव में ई-समाचार ऑनलाइन के बारे मे शानदार जानकारी है और मुझे यह पसंद है. यदि आप अधिक जानकारी चाहते हैं तो यहा जाएं.- ई-समाचार ऑनलाइन

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails