"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

सोमवार, 5 दिसंबर 2011

"हमारी 38वीं वैवाहिक वर्षगाँठ पर " डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"


यौवन ढला बुढ़ापा आया,
साथी साथ निभाते रहना।
मेरे मन के उपवन में तुम,
सुन्दर सुमन खिलाते रहना।।
दुख आया या सुख मुस्काया,
साथ-साथ सब हमने झेले,
गाड़ी के दो पहिए बनकर,
पार किये हैं सभी झमेले,
मेरी सरगम में आगे भी,
तुम आवाज़ मिलाते रहना।
मेरे मन के उपवन में तुम,
सुन्दर सुमन खिलाते रहना।।
मेरे माता और पिता जी,
धन्य हुए बेटी को पाकर,
सगी बेटियाँ भूल गये हैं,
तुमसे पाकर इतना आदर,
बेटे, पोते-पोती पर भी,
स्नेह सुधा बरसाते रहना।
मेरे मन के उपवन में तुम,
सुन्दर सुमन खिलाते रहना।।
रोटी-दूध उन्हें भी मिलता,
जो बिन झोली के बेचारे,
चौकीदारी करते रहते,
टॉम-फिरंगी प्यारे-प्यारे,
अपनी मोहक मुस्कानों से,
सबका मन बहलाते रहना।
मेरे मन के उपवन में तुम,
सुन्दर सुमन खिलाते रहना।।
सफर हुआ अड़तिस वर्षों का,
घर मेरा बन गया हबेली,
लेकिन तुम लगती हो मझको,
अब भी बिल्कुल नई-नवेली,
स्वप्निल आँखो के कोनों में,
सुख-सपने दिखलाते रहना।
मेरे मन के उपवन में तुम,
सुन्दर सुमन खिलाते रहना।।

53 टिप्‍पणियां:

  1. ३८ वी वैवाहिक वर्षगाँठ पर आपको एवं भाभीजी को ढेर सारी बधाइयाँ एवं शुभकामनायें! बहुत सुन्दर रचना प्रस्तुत किया है आपने इस ख़ास दिन पर और साथ ही माता जी पिता जी की तस्वीर लगाकर उनका आशीर्वाद लेकर आपने और भी ख़ूबसूरत बना दिया है!

    उत्तर देंहटाएं
  2. शादी की 38 वीं सालगिरह बहुत बहुत मुबारक हो। इस मुबारक मौके पर लिखी गई ये रचना बहुत सुंदर है।
    मेरे मन के उपवन में तु
    सुंदर सुमन खिलाते रहना..

    क्या बात है, बहुत सुंदर


    अब क्या कहूं, लेकिन पार्टी हो जाए सर....

    उत्तर देंहटाएं
  3. शादी की 38 वीं सालगिरह पर ढेरों बधाईयाँ और शुभकामनाएँ !

    उत्तर देंहटाएं
  4. aadaraneey shastri ji,
    sukhamay vaivahik jeevan ke 38 varsh poorn karane kee badhaayee.banee rahe yah sundar jodi. aapake saath- saath shraddheyaa bhaabhee ji ko bhee saadar naman.
    -S. N. Shukla

    उत्तर देंहटाएं
  5. शादी की 38 वीं सालगिरह बहुत बहुत मुबारक हो। आज के दिन का इससे अनमोल और सुन्दर उपहार और क्या होगा………आप जल्द से जल्द गोल्डन जुबली मनायें यही कामना करती हूँ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. शुभ दिन की बहुत बहुत बधाई! जन्मों जन्मों तक यह प्रेम इसी तरह बना रहे!

    उत्तर देंहटाएं
  7. ढेरों बधाइयां और शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  8. शादी कि सालगिरह कि बहुत बहुत शुभकामनाएँ....
    नई पोस्ट में आपका इतंजार है

    उत्तर देंहटाएं
  9. स्वप्निल आँखो के कोनों में,सुख-सपने दिखलाते रहना।मेरे मन के उपवन में तुम,सुन्दर सुमन खिलाते रहना।।
    bahut nazuk si.....pyari si baat.....is avsar par meri shubhkamnayen.

    उत्तर देंहटाएं
  10. शादी की 38 वीं सालगिरह बहुत बहुत मुबारक हो .. इस शुभ दिन पर हमारी ओर से शुभकामनाएं .. ।

    उत्तर देंहटाएं
  11. सफर हुआ अड़तिस वर्षों का,
    घर मेरा बन गया हबेली,
    लेकिन तुम लगती हो मझको,
    अब भी सजनी नई-नवेली,

    Nice .

    ३८ वी वैवाहिक वर्षगाँठ पर आपको एवं भाभीजी को ढेर सारी बधाइयाँ एवं शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  12. बहुत बहुत शुभकामनायें आपको ...
    बहुत सुंदर कविता लिखी है ...!!

    उत्तर देंहटाएं
  13. आप के समस्त परिवार को मुबारक हो ....
    बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  14. आपको एवं भाभीजी को शादी की 38 वीं सालगिरह बहुत बहुत मुबारक हो। जन्मों तक यह प्रेम इसी तरह बना रहे!

    उत्तर देंहटाएं
  15. बधाईयाँ... बधाईयाँ... बधाईयाँ...
    सादर..

    उत्तर देंहटाएं
  16. विवाह की ३८ वीं सालगिरह पर बहुत बहुत शुभकामनायें ... सुन्दर रचना ..

    उत्तर देंहटाएं
  17. शादी की 38 वीं सालगिरह बहुत बहुत मुबारक हो। इस मुबारक मौके पर लिखी गई ये रचना बहुत सुंदर है।

    उत्तर देंहटाएं
  18. शादी की 38 वीं सालगिरह पर आप दोनों को ही बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएँ......

    उत्तर देंहटाएं
  19. बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  20. बहुत बहुत शुभकामनायें !
    सुंदर रचना .....

    उत्तर देंहटाएं
  21. जीवन के इस आँगन में वर्षों दीप जलाते रहना,
    अभी बहुत कम वर्ष हुए हें, उत्सव कई हें शेष ,
    दशकों तक ऐसे ही खुशियाँ आप मनाते रहना,
    आगे भी अपने खुशियों से अवगत हमें कराते रहना.
    मेरी हार्दिक शुभकामनाएं स्वीकार करें !

    उत्तर देंहटाएं
  22. आपको वैवाहिक वर्षगाँठ की हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  23. सफर हुआ अड़तिस वर्षों का,
    घर मेरा बन गया हबेली,
    लेकिन तुम लगती हो मझको,
    अब भी सजनी नई-नवेली,
    वाह कितने मीठे एहसास ..ये भावनाएं ,प्यार यूँ ही बना रहे.
    आप दोनों को ढेरों बधाई और शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  24. आपको ३८ वी वैवाहिक वर्षगाँठ पर बहुत शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  25. आपको और भाभीजी को ढेर सारी हार्दिक शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  26. शादी की 38 वीं सालगिरह पर आप दोनों को ही बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएँ....

    उत्तर देंहटाएं
  27. ढेरों बधाईयाँ आपको...शुभकामनाएँ....

    उत्तर देंहटाएं
  28. Payari si post, badiya kavita aur bahut hi sunder tasveeren! Saalgirah ki bahut bahut shubhkaamnaayen!

    उत्तर देंहटाएं
  29. विवाह की ३८वी सालगिरह पर हार्दिक शुभकामनाएं और आशीर्वाद |
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  30. I am sorry main thodi let ho gai.vivaah ki 38 vi varshgaanth par haardik badhaai.bahut sudar geet likha hai aur manmohak chitron se susajjit kiya hai.

    उत्तर देंहटाएं
  31. विवाह की अड्तीस्वी वर्षगाँठ पर हार्दिक बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  32. शादी की साल-गिरह पर हार्दिक बधाइयां.

    उत्तर देंहटाएं
  33. बधाइयाँ और ढेरों शुभकामनाएँ

    Gyan Darpan
    .

    उत्तर देंहटाएं
  34. वैवाहिक वर्षगाँठ की हार्दिक शुभकामनाएं.

    उत्तर देंहटाएं
  35. विवाह की 38वीं वर्षगाँट पर हार्दिक बधाई ,
    तथा -
    'लेकिन तुम लगती हो मझको,
    अब भी बिल्कुल नई-नवेली,'
    यह नूतनता सदा विद्यमान रहे !

    उत्तर देंहटाएं
  36. यूँ ही आप दोनों हमेशा नए-नवेले बने रहें , हमारी यही हार्दिक अभिलाषा है .

    उत्तर देंहटाएं
  37. सर, आपको और आदरनीय चाची जी को शादी की 38 वीं सालगिरह पर बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएँ......

    उत्तर देंहटाएं
  38. hii.. Nice Post

    For latest stills videos visit ..

    www.chicha.in

    www.chicha.in

    उत्तर देंहटाएं
  39. शादी की 38 वीं सालगिरह बहुत बहुत मुबारक हो .. इस शुभ दिन पर हमारी ओर से ढेरों बधाईयाँ /शुभकामनाएं .. ।

    उत्तर देंहटाएं
  40. मेरी तरफ से बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. बेस्ट ऑफ़ 2011
      चर्चा-मंच 790
      पर आपकी एक उत्कृष्ट रचना है |
      charchamanch.blogspot.com

      हटाएं
  41. सफर हुआ अड़तिस वर्षों का,
    घर मेरा बन गया हबेली,
    लेकिन तुम लगती हो मझको,
    अब भी बिल्कुल नई-नवेली,waah sath hmesha bna rhe.

    उत्तर देंहटाएं
  42. वर्षगांठ के सुअवसर पर सुन्दर रचना पढ़कर बहुत अच्छा लगा.. यूँ ही माँ जी और आप दोनों हमेशा सुखपूर्ण जीवन व्यतीत करें यही ईश्वर से मंगल कामना करते हैं..

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails