"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

रविवार, 18 अप्रैल 2010

“कविता की इच्छा:Samuel Taylor Coleridge” (अनुवादक:डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री “मयंक”)

Desire a poem:
Samuel Taylor Coleridge
अनुवादक:
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री “मयंक”
सच्चा प्यार हमेशा जलता
इच्छाओं की ज्वाला में
अवगुंठित है धरा
काव्य की माला में
किरणों को 
दर्पण परिवर्तित कर देता है
भाषाओं को
हृदय अनूदित कर देता है
Samuel Taylor Coleridge 
(21 October 1772 – 25 July 1834)

13 टिप्‍पणियां:

  1. shabd kam par var jayada he


    fayde ka soda he




    bahut khub



    shekhar kumawat
    http://kavyawani.blogspot.com/\

    उत्तर देंहटाएं
  2. कम शब्दों में गहरी बात कह दी………………बहुत सुन्दर्।

    उत्तर देंहटाएं
  3. सच्चा प्यार हमेशा जलता
    इच्छाओं की ज्वाला में
    अवगुंठित है धरा
    काव्य की माला में

    कम शब्दों में मन की गहरी बात ...खूबसूरत अनुवाद....बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत बढ़िया रहा आपका अनुवाद, धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  5. सच्चा प्रेम हमेशा जलता इच्छाओं की ज्वाला में ...
    कम पंक्तियों में बहुत सुन्दर अनुवाद ..!!

    उत्तर देंहटाएं
  6. दूसरी भाषाओँ की कविता के हिंदी अनुवाद में अक्सर भाव खो जाते हैं...लेकिन आपने बहुत अच्छे से इसे सम्हाला है...
    कवि के सन्देश को बखूबी आप हम पाठकों तक पहुंचाने में सफल हुए हैं...
    आप बधाई के पात्र हैं...
    आपका आभार....

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत सुन्दर रचना लिखा है आपने जो काबिले तारीफ़ है! बधाई!

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails