"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

गुरुवार, 22 मार्च 2012

"नूतन सम्वत्सर आया है" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')


फिर से उपवन के सुमनों में
देखो यौवन मुस्काया है।
उपहार हमें कुछ देने को,
नूतन सम्वत्सर आया है।।

उजली-उजली ले धूप सुखद,
फिर सुख का सूरज सरसेगा,
चौमासे में बादल आकर,
फिर उमड़-घुमड़ कर बरसेगा,
फिर नई ऊर्जा देने को,
नूतन सम्वत्सर आया है।।

क्रिसमस-दीवाली-ईद,
दिलों में खुशियाँ लेकर आयेगी,
भूले-बिछुड़ों को अपनों से,
आ कर फिर गले मिलायेगी,
प्रगति के खुलते द्वार लिए,
नूतन सम्वत्सर आया है।।

पागलपन का उन्माद न हो,
हो और न कोई बँटवारा,
शस्त्रों की भूख मिटे मन से,
फैले जग में भाईचारा,
भू का अभिनव शृंगार लिए,
नूतन सम्वत्सर आया है।।

शिक्षा में हो विज्ञान भरा,
गुरुओं का आदर-मान रहे,
प्राचीन धरोहर बनी रहे,
मर्यादा का भी ध्यान रहे,
नवल-अमल सुविचार लिए,
नूतन सम्वत्सर आया है।।

शासक अपने खुद्दार बनें,
गद्दार न गद्दी को पाये,
सारे जग में सबसे अच्छा,
गणतन्त्र हमारा कहलाए,
झंकृत वीणा के तार लिए,
नूतन सम्वत्सर आया है।।

36 टिप्‍पणियां:

  1. सुंदर रचना नव-संवत्सर का स्वागत करती हुई ....!!
    शुभकामनायें ...!

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपको नव संवत्सर 2069 की सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएँ।

    ----------------------------
    कल 23/03/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर गीत सर...
    सादर बधाई....

    उत्तर देंहटाएं
  4. नववर्ष की मंगलमय कामनाएँ ।

    उत्तर देंहटाएं
  5. नूतन संवत्सर की बहुत बहुत बधाई!

    उत्तर देंहटाएं
  6. प्रस्तुती मस्त |
    चर्चामंच है व्यस्त |
    आप अभ्यस्त ||

    आइये
    शुक्रवारीय चर्चा-मंच
    charchamanch.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  7. शासक अपने खुद्दार बनें,
    गद्दार न गद्दी को पाये,
    सारे जग में सबसे अच्छा,
    गणतन्त्र हमारा कहलाए,
    झंकृत वीणा के तार लिए,
    नूतन सम्वत्सर आया है।।
    देश की वर्तमान दुर-व्यवस्था को tasalli dilaate svar .

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत सुन्दर रचना...
    आपको भी सर बहुत बहुत शुभकामनाएँ...
    आशीर्वाद बनाये रखें.

    सादर.

    उत्तर देंहटाएं
  9. bahut sundar bhaavna ka sandesh deti hui kavita.nav varsh mubarak ho.

    उत्तर देंहटाएं
  10. हिंदू नववर्ष की आपको भी शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  11. शासक अपने खुद्दार बनें,
    गद्दार न गद्दी को पाये,
    सारे जग में सबसे अच्छा,
    गणतन्त्र हमारा कहलाए,
    नव संवत्सर की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  12. bahut hi sunder kriti hi hum sabhi vyaktiyo ko apni sansriti ko vistar dusro ki sanskriti ko hani pahunchaye bina dena chahiye , sanskirti humari pahchan hoti hi kintu isko bal purvak kisi ko bhi thopa nhi ja sakta

    उत्तर देंहटाएं
  13. सुन्दर रचना, नव वर्ष की बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  14. प्रथम तो नवसम्‍वतसर की शुभकामनाएं। आपकी यह रचना अति श्रेष्‍ठ है। इसकी जितनी तारीफ की जाए कम हैं। आपको पुन: परिवार सहित शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  15. बहुत सुन्दर प्रस्तुति| नवसंवत्सर २०६९ की हार्दिक शुभकामनाएँ|

    उत्तर देंहटाएं
  16. नववर्ष पर ये आशामय रचना नया उत्साह जगाती है । आपको नव वर्ष की ढेरों शुभ कामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  17. नववर्ष पर ये आशामय रचना नया उत्साह जगाती है । आपको नव वर्ष की ढेरों शुभ कामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  18. नववर्ष पर ये आशामय रचना नया उत्साह जगाती है । आपको नव वर्ष की ढेरों शुभ कामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  19. सार्थक पोस्ट ..!
    नवसंवत्सर की हार्दिक शुभकामनाएँ|

    उत्तर देंहटाएं
  20. अनंत शुभकामनाओं के साथ उत्‍कृष्‍ट लेखन की बधाई ।

    उत्तर देंहटाएं
  21. नव-संवत्सर का स्वागत करती हुई सुन्दर रचना..आप को भी
    नवसंवत्सर की हार्दिक शुभकामनाएँ|..

    उत्तर देंहटाएं
  22. नव-संवत्सर की बधाई.
    सुंदर रचना ॥नए वर्ष क स्वागत करती हुई

    उत्तर देंहटाएं
  23. नव वर्ष की ढेरों शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  24. नूतन संवत्सर की ढेरों शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails