"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

गुरुवार, 3 मई 2012

"मेरे पाँच हाइगा" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

मित्रों!
हाइगा के रूप में
मेरे कुछ प्रयोग।
(१)
(२)

(३)

(४)
(५)

21 टिप्‍पणियां:

  1. bahut achchi pangtiyan.....aur nano ki to baat hi nirali.

    उत्तर देंहटाएं
  2. हाइगा से भी बढ़कर आपका ये प्रयोग अच्छा लगा,..
    सार्थक प्रयास,...बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  3. सुंदर भाव...दोहे टाइप के हैं ये हाइगा...

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुंदर भाव...दोहे टाइप के हैं ये हाइगा...

    उत्तर देंहटाएं
  5. सुंदर भाव...दोहे टाइप के हैं ये हाइगा...

    उत्तर देंहटाएं
  6. There is an all pervasive rhythm in all your poetic exspression .Hyga is no exception to this rule .Good initiative .

    उत्तर देंहटाएं
  7. वाह! क्या बात है
    नैनो में आपका देख
    बहुत अच्छा लगा.

    मेरे ब्लॉग को विस्मृत न कीजियेगा शास्त्री जी.

    उत्तर देंहटाएं
  8. सफल हुए प्रयोग
    बन रहा है योग ।

    उत्तर देंहटाएं
  9. bahut sundar bhaav achchi panktiyan.
    sachitra bhavabhivyakti...uttam.

    उत्तर देंहटाएं
  10. अब यह हाइगा क्‍या है? आपके सारे ही प्रयोग बहुत अच्‍छे हैं। वैसे आप किसी भी विधा में लिखें, अच्‍छा ही लिखते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  11. आपके कविता से जुड़े प्रयोग हमेशा मुग्ध करते हैं.. और यहाँ कविता के माध्यम से तो आपने तस्वीरों जीवंत कर दिया है!!

    उत्तर देंहटाएं
  12. जीवन शैली के काम आया इंसान ,
    देखा सभ्यता का प्रतिमान .बढ़िया हाइकु /हैगा प्रयोग आपके .बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  13. यह न जाना |
    हाइगा आजमाना |
    मस्त हुआ ना ||

    उत्तर देंहटाएं
  14. हर तस्वीर के मुताबिक ....सटीक हाईगा...बहुत बढिया

    उत्तर देंहटाएं
  15. 'Hyga' is something very new to me. Loving it...

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails