"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

रविवार, 14 मार्च 2010

“अमृतसर, पंजाब यात्रा के कुछ चित्र” (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री “मयंक”)

स्वर्ण मन्दिर, अमृतसर (पंजाब)
के कुछ दृश्य

IMG_0968IMG_0956
IMG_0958
IMG_0960
IMG_0965 - Copy 
जलियाँवाला बाग, अमृतसर (पंजाब)
के कुछ दृश्य
IMG_0971
IMG_0972
IMG_0973
IMG_0975
IMG_0981
IMG_0982
IMG_0983
IMG_0986
IMG_0985 
IMG_0988
IMG_0987
वाघा बार्डर, अमृतसर (पंजाब)
IMG_1048
स्वर्ण-जयन्ती द्वार (भारत)
IMG_1049
IMG_1025
वाघा बार्डर, अमृतसर (पंजाब)
पाकिस्तान का लाहौरी गेट
चित्र में दिखाई दे रहा है!
 
IMG_1047 
IMG_1033
IMG_1018

15 टिप्‍पणियां:

  1. शाश्त्रीजी आपने तो पंजाब के बहुत ही सुंदर और पावन स्थलों के दर्शन सुंदर चित्रों द्वारा करवा दिये. बहुत आभार आपका.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुन्दर भ्रमणशील चित्रो के लिये आभार
    बहुत सुन्दर

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत ही सुंदर चित्र आप ने तो पंजाब की याद दिला दी.
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  4. चित्रों के माध्यम से आपने पंजाब की सिर करा दी....सुन्दर छायांकन ..शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  5. बढ़िया रही यात्रा। चित्र बोल रहे हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  6. वाह बहुत शानदार चित्र. आपने तो हमें भी अमृतसर की सैर करवा दी. धन्यवाद.

    उत्तर देंहटाएं
  7. धन्यवाद . आज तो आपने घर बैठे ही गुरूओं की पवित्र नगरी के दर्शन करवा दिये.

    उत्तर देंहटाएं
  8. शास्त्री जी आपने बहुत ही सुन्दर चित्रों के साथ अमृतसर का सैर करा दिया ! बहुत अच्छा लगा!

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails