"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

शुक्रवार, 14 सितंबर 2012

"हिन्दी दिवस पर दो गीत" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

हिन्दीदिवस पर सभी देशवासियों को
हार्दिक शुभकामनाएँ!
इस अवसर पर प्रस्तुत हैं
दो गीत!
(१) 
हिन्दीभाषा को अपनायें।
आओ हिन्दीदिवस मनायें।।

हिन्दीवालों की हिन्दी ही-
क्यों इतनी कमजोर हो गयी?
भाषा डूबी अंधियारे में,
अंग्रेजी की भोर हो गई।
एक वर्ष में पन्द्रह दिन ही-
हिन्दी की गाथा को गायें।
आओ हिन्दीदिवस मनायें।१।

चीरहरण करते भाषा का,
ये काले अंग्रेज निरन्तर।
भेद-भाव की करतूतों से,
छेद रहे माता का अन्तर।
संविधान को धता बताकर,
ये मनमाने ढोल बजायें।
आओ हिन्दीदिवस मनायें।२।

जो जन-जन का राजदुलारा,
उसको है इण्डिया बनाया।
अपने को इण्डियन बताकर,
भारतीयता को बिसराया।
खाकर के स्वदेश का राशन,
गान विदेशों का ये गायें।
आओ हिन्दीदिवस मनायें।३।

मत माँगे हिन्दी भाषा में,
लोगों को विश्वास दिलाया।
लेकिन संसद में जाकर के,
गिटर-पिटर का सुर अपनाया।
आगामी निर्वाचन में हम,
नेताओं को धरा दिखायें।
आओ हिन्दीदिवस मनायें।४।
--
(२)
कदम-कदम पर साथ निभाती।
कार हमारी हमको भाती।।

हिन्दीदिन पर इसको लाये।
हम सब मन में थे हर्षाये।।

आज तीसरा जन्मदिवस है।
लेकिन अब भी जस की तस है।।
 
यह सफर की सखी-सहेली।
अब भी है ये नयी-नवेली।।

साफ-सफाई इसकी करते।
इसका ध्यान हमेशा धरते।।

सड़कों पर चलती मतवाली।
कभी न धोखा देने वाली।।

सदा सँवारो सबका जीवन।
चाहे जड़ हो या हो चेतन।।

पूरे घर को तुम हो भायी।
जन्मदिवस पर तुम्हें बधायी।

36 टिप्‍पणियां:

  1. हिंदी का हम मान बढाएं,
    घर बाहर हिंदी अपनाएं ,
    आओ हिंदी दिवस मैं ,
    हिंदी की बिंदी चमकाएं .
    हिंद देश का मान बढाएं ,
    इंडिया इंडिया बहुत हो चुका
    हिन्दुस्तानी हम हो जाएं .
    ram ram bhai
    शुक्रवार, 14 सितम्बर 2012
    Ear Infections (कानों में होने वाले रोग - संक्रमण )
    Ear Infections (कानों में होने वाले रोग - संक्रमण )

    Chiropractic ......Bringing out the best in you,

    माहिरों द्वारा लिखा गया मूल आलेख बेहतरीन है .इसलिए इसका मूल संस्करण पहले मुहैया करवाया जा रहा है .हिंदी संस्करण व्याख्या सहित जल्दी पढियेगा ,वायदा है .

    Acute Otitis Media (Middle Ear Infection )

    A child awakens suddenly at night crying because of intense ear pain .The probable cause is infection of the middle ear (the area between the ear drum and the skull )-a very painful condition called acute otitis media that is usually accompanied by fever with fluid coming out of the ear .Childhood ear infections often frighten parents partly because they tend to come on suddenly , often at night .

    उत्तर देंहटाएं
  2. चीरहरण करते भाषा का,
    ये काले अंग्रेज निरन्तर।
    भेद-भाव की करतूतों से,
    छेद रहे माता का अन्तर।
    संविधान को धता बताकर,
    ये मनमाने ढोल बजायें।
    आओ हिन्दीदिवस मनायें।२।

    उत्तर देंहटाएं
  3. चीरहरण करते भाषा का,
    ये काले अंग्रेज निरन्तर।
    भेद-भाव की करतूतों से,
    छेद रहे माता का अन्तर।
    संविधान को धता बताकर,
    ये मनमाने ढोल बजायें।
    आओ हिन्दीदिवस मनायें।२।बहुत बढ़िया प्रस्तुति -चीरहरण करते भाषा का ,ये काले अँगरेज़ हटाएं ,आओ सब हिंदी अपनाएं , मिलकर हिंदी दिवस मनाएं .

    उत्तर देंहटाएं
  4. हिन्दीभाषा को अपनायें।
    आओ हिन्दीदिवस मनायें।।

    badhai.

    उत्तर देंहटाएं
  5. खूबसूरत रचना.
    हिंदी दिवस की हार्दिक बधाई.
    जब आएंगे कभी खटीमा,घूमेंगे इस गाड़ी में.
    हम सब इस पर सफ़र करेंगे समतल और पहाड़ी में.

    उत्तर देंहटाएं
  6. उत्तर
    1. आओ देवनागरी दिवस मनाये और सभी भारतीय भाषाओ को
      आपस में मिलाये
      जय हिंदी

      हटाएं
  7. फले फूले खिलखिलाती रहे हमारी हिंदी
    शुभकामनाएं हिंदी दिवस की...

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  8. हिन्दी दिवस की ढेरों शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  9. है जिसने हमको जन्म दिया ,हम आज उसे क्या कहते है\
    क्या यही हमारा राष्ट्रवाद , जिसका पथ दर्शन करते है,
    हे राष्ट्र्स्वामिनी निराश्रिता , परिभाषा इसकी मत बदलो,
    हिन्दी है भारत की भाषा , हिन्दी को हिन्दी रहने दो,,,,,,

    RECENT POST -मेरे सपनो का भारत

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत ही बढ़ियता सर!
    हिन्दी दिवस की शुभकामनाएँ!

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  11. हिंदी भारतवर्ष में ,पाय मातु सम मान
    यही हमारी अस्मिता और यही पहचान |

    उत्तर देंहटाएं
  12. बढ़िया लिखा है ...हिंदी दिवस की हार्दिक बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  13. हाय हाय हिंदी हठी, हाकिम हुज्जत हूल ।
    फिर भी तू जिन्दा बची, महक कुदरती फूल ।
    महक कुदरती फूल, चहकती बाजारों में ।
    घूमे देश विदेश, पर्यटन व्यापारों में ।
    रोजगार मिल रहे, सभी क्षेत्रो में फैली ।
    सीख रहे वे शत्रु, नजर जिनकी थी मैली ।

    उत्तर देंहटाएं
  14. हिन्दी दिवस की शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  15. हिंदी दिवस की शुभकामनायें ..और आपकी कार को भी जन्मदिन की शुभकामनायें :)

    उत्तर देंहटाएं

  16. श्रीमान,

    आपका हिदी के प्रति प्यार या कहूं झुकाव आदरणीय है. कृपया इसे राडजभाषा ही कहें ताकि हम सभी समा सकें. मातृभाषा तो यह सब भारतीयों का नहीं हो सकती. कृपया विचारें..
    सादर,
    http://www.laxmirangam.blogspot.com


    अयंगर.

    उत्तर देंहटाएं
  17. नमस्कार!
    बहुत ही मनमोहक अंदाज में लिखा हिंदी गीत. सभी लोग एकबार तो कुछ सोचेंगे ही. प्रेरक और संग्रहणीय रचना.
    जय हिंदी. जय हिंद.
    जय हिंदी. जय हिंद.
    जय हिंदी. जय हिंद.
    जय हिंदी. जय हिंद.
    जय हिंदी. जय हिंद.

    उत्तर देंहटाएं
  18. हिंदी दिवस की बहुत बहुत शुभकामनायें ...

    उत्तर देंहटाएं
  19. सभी को हिंदी दिवस की बहुत बहुत शुभकामनायें
    आपकी मनमोहक कविता ने आज मेरा दिन बना दिया है.
    "मयंक जी" को मेरी ओर से अनेक अनेक धन्यवाद
    अपनी मातृभाषा की इसी तरह सेवा करते रहें
    एक बार पुनः मेरी ओर से सभी को हिंदी दिवस की ढेर सारी शुभकामनायें

    आपका
    वैभव जांदे (सिरोंज, जिला विदिशा)
    वर्तमान में मै पुणे में सी. ए. कर रहा हूँ

    उत्तर देंहटाएं
  20. हिंदी दिवस की बहुत बहुत शुभकामनाएँ.....अभी तक एक खूबसूरत सफर के लिए दिल से शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  21. हिंदी दिवस की बहुत बहुत शुभकामनाएं,,

    ये सब भी बहुत रोचक यादें हैं, जिसे हम कभी भुलाना नहीं चाहते
    बहुत बढिया

    उत्तर देंहटाएं
  22. दोनों ही रचनाएँ बहुत ही सुंदर है | पहली वाली कविता बहुत सार्थक भी |
    मेरी पोस्ट में आपका स्वागत है |
    जमाना हर कदम पे लेने इम्तिहान बैठा है

    उत्तर देंहटाएं
  23. बहुत सुन्दर.. हिन्दी दिवस की शुभकामनायें |

    उत्तर देंहटाएं
  24. लाजवाब शास्त्री जी, लाजवाब!
    हिंदी दिवस के अवसर पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  25. शास्त्रीजी,
    हिंदी-दिवस की बधाई और मेरा प्रणाम स्वीकार करें. सरल भाषा में लिखे गए हिंदी-गीत सुन्दर हैं !
    इन दिनों जयप्रकाशजी पर संस्मरण लिख रहा हूँ, पता नहीं आप उसे पढ़ रहे हैं या नहीं ! अवकाश मिले तो देखिएगा.
    सादर-आ. .

    उत्तर देंहटाएं
  26. कल 14/सितंबर/2014 को आपकी पोस्ट का लिंक होगा http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर
    धन्यवाद !

    उत्तर देंहटाएं
  27. मुझ में जीवित है
    हो सकता है आप सब में भी
    जब तक मैं हूँ और मेरे बाद भी
    हिंदी अजर है
    अमर रहेगी
    साहित्य कभी मरता नहीं

    बहुत ही सुंदर गीत

    उत्तर देंहटाएं
  28. हिन्दी दिवस और कार दिवस की बहुत बहुत शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails