"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

शुक्रवार, 24 मई 2013

"खीरा गर्मी में वरदान" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

तन-मन की जो हरता पीरा
वो ही कहलाता है खीरा 

चाहे इसका रस पी जाओ
चाहे नमक लगाकर खाओ
हर मौसम में ये गुणकारी
दूर भगाता है बीमारी
 आधा कड़ुआ, आधा मीठा
संकर खीरा हरा पपीता 
 
जिनका रंग पीला होता है
दो देशी खीरा होता है
अन्दर से होता है कच्चा
स्वाद बहुत है इसका अच्छा
 
जब खाओ रायता-सलाद 
खीरे को भी करना याद 
 
खीरा गर्मी में वरदान
इसके गुण को लो पहचान 

15 टिप्‍पणियां:

  1. महिमा इसकी अपरम्पार
    खीरा की हो जय - जयकार

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह!वाह!!
    कभी खरबूजा, कभी खीरा |
    क्या खूब ! हकीमी नुस्खों का जखीरा ||

    उत्तर देंहटाएं
  3. वाह वाह आदरणीय गुरुदेव श्री बहुत ही सुन्दर सटीक, मुख में पानी आ गया. बधाई स्वीकारें इस सुन्दर प्रस्तुति पर. आपकी यह रचना कल शनिवार (25 -05-2013) को ब्लॉग प्रसारण के "विशेष रचना कोना" पर लिंक की गई है कृपया पधारें.

    उत्तर देंहटाएं
  4. kheera bhi ab aapka ahsanmand ho gaya hoga ,
    aapke liye bazar me sasta ho gaya hoga .
    बहुत सुन्दर भावनात्मक अभिव्यक्ति ..आभार . कुपोषण और आमिर खान -बाँट रहे अधूरा ज्ञान
    साथ ही जानिए संपत्ति के अधिकार का इतिहास संपत्ति का अधिकार -3महिलाओं के लिए अनोखी शुरुआत आज ही जुड़ेंWOMAN ABOUT MAN

    उत्तर देंहटाएं
  5. waah......sacchi bat ....garmi apne sath bahut kuchh lati hai khane ke liye ....

    उत्तर देंहटाएं
  6. गर्मियों के लिए आज कल बहुत ही उपयोगी रचनाएँ दें रहें है,बिशेष आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  7. हे खीरे तेरी जय -जय कार
    तेरी महिमा अपरम्पार

    सुन्दर बाल कविता ..........

    उत्तर देंहटाएं
  8. आपने लिखा....हमने पढ़ा
    और लोग भी पढ़ें;
    इसलिए कल 26/05/2013 को आपकी पोस्ट का लिंक होगा http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर
    आप भी देख लीजिएगा एक नज़र ....
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  9. गर्मियों में खीरा हर किसी का पसंदीदा बन जाता है..

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails