"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

मंगलवार, 1 मार्च 2011

"हे नीलकंठ हे महादेव" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

हे नीलकंठ हे महादेव!
हे नीलकंठ हे महादेव!
तुम पंचदेव में महादेव!!

तुम विघ्नविनाशक के ताता
जो तुमको मन से है ध्याता
उसका सब संकट मिट जाता
भोले-भण्डारी महादेव!
तुम पंचदेव में महादेव!!

कर्ता-धर्ता-हर्ता सुधीर
तुम सुरसेना के महावीर
दुर्गम पर्वतवासी सुबीर
हे निराकार-साकार देव!
तुम पंचदेव में महादेव!!

नन्दी तुमको लगता प्यारा
माथे पर शशि को है धारा
धरती पर सुरसरि को तारा
हे कालकूट हे महादेव!
तुम पंचदेव में महादेव!!

त्रिशूल. जटा, डमरूधारी
दुष्टों के हो तुम संहारी
बाघम्बरधारी वनचारी
हे दुष्टदलन, हे महादेव!
तुम पंचदेव में महादेव!!

जय हो जय, शिव-शंकर की जय!
जो शिवलिंग की पूजा करता
वो पापकर्म से है डरता
भवसागर से वो ही तरता
उस पर करते तुम कृपा देव!
तुम पंचदेव में महादेव!!

25 टिप्‍पणियां:

  1. शिव महिमा का बहुत ही सुन्दर वर्णन किया है…………हर हर महादेव्…………बेहद सुन्दर गुणगान्।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुन्दर रचना ,जय जय शिव शंकर ......

    उत्तर देंहटाएं
  3. सुन्दर आह्वान भोले नाथ का.. महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामना..

    उत्तर देंहटाएं
  4. ॐ नमः शिवाय
    महा शिवरात्रि की हार्दिक बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सुन्दर...हर हर महादेव ...

    उत्तर देंहटाएं
  6. भोले बाबा का महिमा का बहुत ही सुंदर वर्णन
    महाशिवरात्रि पर शुभकामनाएं..

    उत्तर देंहटाएं
  7. शास्त्री जी,शिव रात्रि पर एक अनमोल भेट ! शिवजी वेसे भी मेरे अराध्य हे "जय शिव शम्भू "

    उत्तर देंहटाएं
  8. जय भोलेनाथ। भगवान शिव का महिमा गान बेहद सुंदर है। आपको शिवरात्रि के पावन अवसर पर ढेरों शुभकामनाएँ। भोलेनाथ की कृपा सभी पर बनी रहे।

    उत्तर देंहटाएं
  9. महाशिवरात्री पर्व पर भोले बाबा की मनभावन स्तुति ।
    बोल-बम...

    उत्तर देंहटाएं
  10. महा शिवरात्रि की हार्दिक बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत सुंदर शिव वंदना ....शास्त्री जी
    महा शिवरात्रि की हार्दिक बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  12. हर हर महादेव् हर हर महादेव्

    उत्तर देंहटाएं
  13. महा शिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें....सादर

    उत्तर देंहटाएं
  14. बहुत सुन्दर, हर हर महादेव|
    महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं|

    उत्तर देंहटाएं
  15. पर्व विशेष पर सुन्दर शिव महिमा...आभार..

    उत्तर देंहटाएं
  16. भोलेनाथ की सरल सुंदर स्तुति , हर हर महादेव शंभो महाशिवरात्रि की शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails