"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

मंगलवार, 5 अप्रैल 2011

अनुवाद-Love and Friendship a poem by Emily Bronte

प्यार और मित्रता
Love and Friendship a poem by Emily Bronte
अनुवादक-डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
प्रेम
और
मित्रता का भेद
मानो जंगली गुलाब
और
पवित्र पेड़
--
पवित्र वृक्ष
चमकता नहीं
खिलखिलाता नही
प्यार
टिमटिमाता है
झिलमिलाता है
प्रकाश
स्थिर नहीं रहता
मगर अन्धकार
अधिक समय तक
साथ निभाता है
--
जंगली गुलाब
मानो वसन्त की मीठी फुहार
इसकी ऊष्मा
जैसे सुगन्धित बयार
लेकिन
सर्दी आने का
मुझे है इन्तजार
तब
कौन पुकारेगा
निष्पक्ष होकर
जंगली गुलाब को
जब
मूर्ख जंगली गुलाब का हार
मुरझा जाएगा
और दोस्ती का पवित्र वृक्ष
चमकेगा दिसम्बर में
सदाबहार हरी-भरी माला की तरह
Emily Bronte
(1818 - 1848)

10 टिप्‍पणियां:

  1. कविता के भावों में सच्चाई है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत अच्छे अनुवाद के लिये धन्यवाद,,

    उत्तर देंहटाएं
  3. Your blog is great你的部落格真好!!If you like, come back and visit mine: http://b2322858.blogspot.com/ Thank you!!Wang Han Pin(王翰彬)From Taichung,Taiwan(台灣

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह …………बहुत ही शानदार अनुवाद्।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बढ़िया अनुवाद सुन्दर कविता.

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर कविता और उतना ही सुन्दर अनुवाद..आभार

    उत्तर देंहटाएं
  7. dosti aur prem ka bhed prasang achcha hai aur anuvaad usse bhi achcha.

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails