"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

बुधवार, 10 अगस्त 2011

"1050वीं पोस्ट - कभी चहकती भोर नहीं है" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

आसमान में उड़ने का तो, ओर नहीं है छोर नहीं है।
लेकिन हूँ लाचार पास में बची हुई अब डोर नहीं है।।

दिवस ढला है, हुआ अन्धेरा, दूर-दूर तक नहीं सवेरा,
कब कट जाए पतंग सलोनी, साँसों पर कुछ जोर नहीं है।

तन चाहे हो भोला-भाला, लेकिन मन होता मतवाला,
जब होता अवसान प्राण का, तब जीवन का शोर नहीं है।

वो ही कर्ता, वो ही धर्ता, कुशल नियामक वो ही हर्ता,
जो उसकी माया को हर ले, ऐसा कोई चोर नहीं है।

रूप रंग होता मूरत में, आकर्षण होता सूरत में,
लेकिन माटी के पुतले में, कभी चहकती भोर नहीं है।

44 टिप्‍पणियां:

  1. आपको बहुत बधाई अपनी 1050 पोस्ट के लिए... बहुत ही सुन्दर गीत लिखा है आपने...

    उत्तर देंहटाएं
  2. भाई साहब ! आपने बहुत ख़ूब लिखा है।

    बहुत बधाई अपनी 1050 पोस्ट के लिए..

    उत्तर देंहटाएं
  3. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपको बहुत बधाई अपनी 1050 पोस्ट के लिए ... बहुत ही सुन्दर गीत लिखा है...आभार...

    उत्तर देंहटाएं
  5. १०५० वें पोस्ट के लिए बहुत बहुत बधाई








    11

    उत्तर देंहटाएं
  6. 1050 वीं पोस्ट की हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें।
    सुन्दर प्रस्तुति।

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत तेज़ी से लिखते है आप भाई जी...आपकी लिखनी के नतमस्तक है हम ....आपकी १०५०.वीं पोस्ट कि हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  8. "वो ही कर्ता, वो ही धर्ता, कुशल नियामक वो ही हर्ता,
    जो उसकी माया को हर ले, ऐसा कोई चोर नहीं है।"

    उत्तर देंहटाएं
  9. 1050वीं पोस्ट की हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें!!
    दिलचस्प और लाजवाब रचना!

    उत्तर देंहटाएं
  10. दिवस ढला है, हुआ अन्धेरा, दूर-दूर तक नहीं सवेरा,
    कब कट जाए पतंग सलोनी, साँसों पर कुछ जोर नहीं है।
    तन चाहे हो भोला-भाला, लेकिन मन होता मतवाला,
    जब होता अवसान प्राण का, तब जीवन का शोर नहीं है।
    बहुत सुन्दर पंक्तियाँ! लाजवाब गीत!
    १०५० वी पोस्ट पूरे होने पर आपको हार्दिक बधाइयाँ एवं शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  11. आपको बहुत बधाई अपनी 1050 पोस्ट के लिए... बहुत ही सुन्दर गीत लिखा है आपने...

    उत्तर देंहटाएं
  12. यह तो एक कीर्तिमान लगता है शास्त्री जी ।
    बहुत बहुत बधाई और शुभकामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  13. आसमान में उड़ने का तो, कोई ओर न छोर नहीं है।
    लेकिन हूँ लाचार पास में बची हुई अब डोर नहीं है।।

    ...बहुत सुंदर और मर्मस्पर्शी प्रस्तुति॥

    उत्तर देंहटाएं
  14. 1050 vi post ke liye sahstron badhaai.is kavita ka to koi jabaab hi nahi hai.behtreen kavita.

    उत्तर देंहटाएं
  15. आप जितनी पोस्ट लिखने की आस लिये बैठा हूँ। शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  16. aap to sir kirtimaan sthapit karoge...sabse jayda kavitayen likhne ka..:)

    bahut pyari si rachna..

    उत्तर देंहटाएं
  17. आपकी आज तक पढ़ी हुयी सभी रचनाओं मे मुझे यह सार्वधिक पसंद आयी

    उत्तर देंहटाएं
  18. 1050 वीं पोस्ट की हार्दिक बधाई सर ।


    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  19. बहुत बढिया लिखा है .. आपकी 1050 पोस्ट के लिए आपको बहुत बधाई !!

    उत्तर देंहटाएं
  20. इस शुभ अवसर हार्दिक बधाईयां और शुभकामनाएं शाश्त्रीजी.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  21. अनवरत लेखन के लिए हार्दिक बधाइयाँ...

    उत्तर देंहटाएं
  22. सदा की तरह प्रभावित करती रचना। आज और विशेष कुछ नहीं सिर्फ़
    बधाई! बधाई!! बधाई!!!

    उत्तर देंहटाएं
  23. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  24. 1050 पोस्ट होने पे बधाई और यह १०५०वी पोस्ट है भी बहुत शानदार.

    उत्तर देंहटाएं
  25. १०५० वीं पोस्ट के लिए बधाई ..

    खूबसूरत अभिव्यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  26. आपको बहुत बधाई अपनी 1050 पोस्ट के लिए... बहुत ही सुन्दर गीत लिखा है आपने...

    मेरा आपसे निवेदन है कि 16 अगस्त से आप एक हफ्ता देश के नाम करें, अन्ना के आमरण अनशन के शुरू होने के साथ ही आप भी अनशन करें, सड़कों पर उतरें। अपने घर के सामने बैठ जाइए या फिर किसी चौराहे या पार्क में तिरंगा लेकर भ्रष्टाचार के खिलाफ नारे लगाइए। इस बार चूके तो फिर पता नहीं कि यह मौका दोबारा कब आए।

    उत्तर देंहटाएं
  27. आपको बहुत बधाई अपनी 1050 पोस्ट के लिए... बहुत ही सुन्दर गीत लिखा है आपने...

    मेरा आपसे निवेदन है कि 16 अगस्त से आप एक हफ्ता देश के नाम करें, अन्ना के आमरण अनशन के शुरू होने के साथ ही आप भी अनशन करें, सड़कों पर उतरें। अपने घर के सामने बैठ जाइए या फिर किसी चौराहे या पार्क में तिरंगा लेकर भ्रष्टाचार के खिलाफ नारे लगाइए। इस बार चूके तो फिर पता नहीं कि यह मौका दोबारा कब आए।

    उत्तर देंहटाएं
  28. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...बधाई 1050वीं पोस्ट के लिए

    उत्तर देंहटाएं
  29. निराशा भी जीवन का ही एक गीत है ..
    1050वीं पोस्ट का रिकोर्ड हासिल करने की बहुत बधाई और शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  30. 1050वीं पोस्‍ट, आपने तो कमाल कर दिया। बधाई आपको।

    उत्तर देंहटाएं
  31. तन चाहे हो भोला-भाला, लेकिन मन होता मतवाला,
    जब होता अवसान प्राण का, तब जीवन का शोर नहीं है...behtarin panktiyan..aaj aapki 1050 post ke prakashan par bhi hardik shubhkamnayein

    उत्तर देंहटाएं
  32. बहुत ही सुन्दर गीत लिखा है आपन बधाई 1050वीं पोस्ट के लिए****

    उत्तर देंहटाएं
  33. Hi I really liked your blog.
    I own a website. Which is a global platform for all the artists, whether they are poets, writers, or painters etc.
    We publish the best Content, under the writers name.
    I really liked the quality of your content. and we would love to publish your content as well. All of your content would be published under your name, so that you can get all the credit for the content. For better understanding,
    You can Check the Hindi Corner of our website and the content shared by different writers and poets.

    http://www.catchmypost.com

    and kindly reply on mypost@catchmypost.com

    उत्तर देंहटाएं
  34. जीवन की सच्चाई को बयाँ करती सुन्दर रचना...1050वीं पोस्ट के लिए बहुत-बहुत बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  35. 1050 वीं पोस्ट की बहुत बहुत बधाई, आपका ब्लॉग इसी तरह दिन दूना रात चौगुना बढ़ता रहे,

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails