"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

रविवार, 7 अगस्त 2011

"दिल से दिल मिल जाने पर" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

अन्जाने अपने हो जाते,
दिल से दिल मिल जाने पर।
सच्चे सब सपने हो जाते,
दिवस सुहाने आने पर।।

सूरज की क्या बात कहें,
चन्दा भी आग उगलता है,
साथ छोड़ जाती परछाई,
गर्दिश के दिन आने पर।

दूर-दूर से अच्छे लगते
वन-पर्वत, बहती नदियाँ,
कष्टों का अन्दाज़ा होता,
बाशिन्दे बन जाने पर।

पानी से पानी की समता,
कीचड़ दाग लगाती है,
साज और संगीत बताता,
सुर को ग़लत लगाने पर।

हर पत्थर हीरा नहीं होता,
ध्यान हमेशा ये रखना,
सोच-समझकर निर्णय लेना,
रत्नों को अपनाने में।

जो सुख-दुख में सहभागी हों,
वो मिलते हैं किस्मत से,
स्वर्ग, नर्क सा लगने लगता,
मन का मीत न पाने पर।

सच्चे सब सपने हो जाते,
दिवस सुहाने आने पर।। 

33 टिप्‍पणियां:

  1. हर पत्थर हीरा नहीं होता,
    ध्यान हमेशा ये रखना,
    सोच-समझकर निर्णय लेना,
    रत्नों को अपनाने में।

    शास्त्री जी, बहुत अच्छी बातें बताई हैं आपने.
    आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  2. जीवन की सच्चाई से रु-ब-रू कराती रचना .....!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. bahut sateek,gahari baat kahi hai is kavita ke madhyam se din achche ho to dushman bhi dost ban jaate hain.bahut badhia.

    उत्तर देंहटाएं
  4. har panktiyan jivan darshan ki sampurn vykhya karti huyi atm vibhor kar gayin sir .sundar ahasas ../shukriya ji /

    उत्तर देंहटाएं
  5. साथ छोड़ जाती परछाई,
    गर्दिश के दिन आने पर।
    बहुत सही बात है। बहुत अच्छा लगा यह गीत।

    उत्तर देंहटाएं
  6. मित्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाओ के साथ
    आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति आज के तेताला का आकर्षण बनी है
    तेताला पर अपनी पोस्ट देखियेगा और अपने विचारों से
    अवगत कराइयेगा ।

    http://tetalaa.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत खूबसूरत प्रस्तुति ..

    हर पत्थर हीरा नहीं होता , पर हर हीरा पत्थर ज़रूर होता है ...

    उत्तर देंहटाएं
  8. आपने बिल्कुल सच कहा है कि

    अन्जाने अपने हो जाते,
    दिल से दिल मिल जाने पर।
    सच्चे सब सपने हो जाते,
    दिवस सुहाने आने पर।।

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत सही.हर पत्थर हीरा नहीं होता

    उत्तर देंहटाएं
  10. अन्जाने अपने हो जाते,
    दिल से दिल मिल जाने पर।
    सच्चे सब सपने हो जाते,
    दिवस सुहाने आने पर।।इससे सुन्दर भी कविता हो सकती है सोचा नहीं जा सकता .बेहद खूबसूरत .,ज़िन्दगी लिए है पूरी ये कविता और हमारा पूरा परिवेश भी .
    भी पधारें .Super food :Beetroots are known to enhance physical strength,say cheers to Beet root juice.Experts suggests that consuming this humble juice could help people enjoy a more active life .(Source: Bombay Times ,Variety).

    http://kabirakhadabazarmein.blogspot.com/2011/08/blog-post_07.html
    ताउम्र एक्टिव लाइफ के लिए बलसंवर्धक चुकंदर .
    http://veerubhai1947.blogspot.com/
    शुक्रवार, ५ अगस्त २०११
    Erectile dysfunction? Try losing weight Health

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत सटीक, शुभकामनाएं.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  12. आपकी इस सुन्दर प्रविष्टि की चर्चा कल दिनांक 08-08-2011 को चर्चामंच http://charchamanch.blogspot.com/ पर सोमवासरीय चर्चा में भी होगी। सूचनार्थ

    उत्तर देंहटाएं
  13. आपके पास दोस्तो का ख़ज़ाना है,
    पर ये दोस्त आपका पुराना है,
    इस दोस्त को भुला ना देना कभी,
    क्यू की ये दोस्त आपकी दोस्ती का दीवाना है

    ⁀‵⁀) ✫ ✫ ✫.
    `⋎´✫¸.•°*”˜˜”*°•✫
    ..✫¸.•°*”˜˜”*°•.✫
    ☻/ღ˚ •。* ˚ ˚✰˚ ˛★* 。 ღ˛° 。* °♥ ˚ • ★ *˚ .ღ 。.................
    /▌*˛˚ღ •˚HAPPY FRIENDSHIP DAY MY FRENDS ˚ ✰* ★
    / .. ˚. ★ ˛ ˚ ✰。˚ ˚ღ。* ˛˚ 。✰˚* ˚ ★ღ


    फ्रेंडशिप डे स्पेशल पोस्ट पर आपका स्वागत है!
    मित्रता एक वरदान

    शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  14. सूरज की क्या बात कहें,
    चन्दा भी आग उगलता है,
    साथ छोड़ जाती परछाई,
    गर्दिश के दिन आने पर।

    बहुत खूब

    उत्तर देंहटाएं
  15. बहुत बढ़िया सर।
    ------------
    कल 08/08/2011 को आपकी एक पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत खूब।

    शायद इसीलिए कहा गया है कि दिल मिले तो मेला है, वर्ना इंसान अकेला है।

    ------
    ब्‍लॉगसमीक्षा की 27वीं कड़ी!
    आखिर इस दर्द की दवा क्‍या है ?

    उत्तर देंहटाएं
  17. जो सुख दुख में सहभागी हों वे मिलते हैं किस्मत से ... बहुत अच्छी लगी यह पंक्तियाँ

    उत्तर देंहटाएं
  18. हर पत्थर हीरा नहीं होता ..यही सच है !

    उत्तर देंहटाएं
  19. बहुत सुन्दर और लाजवाब गीत! बिल्कुल सही कहा है आपने!

    उत्तर देंहटाएं
  20. सूरज की क्या बात कहें,
    चन्दा भी आग उगलता है,
    साथ छोड़ जाती परछाई,
    गर्दिश के दिन आने पर।बार -बार पढने ,संग्रह करने लायक गीत .बधाई डॉ.भाई साहब

    शुक्रवार, ५ अगस्त २०११
    Erectile dysfunction? Try losing weight Health
    ...क्‍या भारतीयों तक पहुच सकेगी यह नई चेतना ?
    Posted by veerubhai on Monday, August 8
    Labels: -वीरेंद्र शर्मा(वीरुभाई), Bio Cremation, जैव शवदाह, पर्यावरण चेतना, बायो-क्रेमेशन /http://sb.samwaad.com/

    उत्तर देंहटाएं
  21. हर पत्थर हीरा नहीं होता,
    ध्यान हमेशा ये रखना,
    सोच-समझकर निर्णय लेना,
    रत्नों को अपनाने में।

    bahut khubsurat panktiyan.bhavpurn rachna ke liye badhai aapko

    उत्तर देंहटाएं
  22. बहुत खूबसूरत प्रस्तुति ..
    हर पत्थर हीरा नहीं होता,
    ध्यान हमेशा ये रखना,
    सोच-समझकर निर्णय लेना,
    रत्नों को अपनाने में।

    उत्तर देंहटाएं
  23. बहुत सुन्दर गीत... आनंद आ गया...
    सादर...

    उत्तर देंहटाएं
  24. bahut sunder bahv liye anoothi prastuti,sunder shabdon main likhi gai,badhaai aaoko,
    happy friendship day.

    "ब्लोगर्स मीट वीकली {३}" के मंच पर सभी ब्लोगर्स को जोड़ने के लिए एक प्रयास किया गया है /आप वहां आइये और अपने विचारों से हमें अवगत कराइये/हमारी कामना है कि आप हिंदी की सेवा यूं ही करते रहें। सोमवार ०८/०८/११ को
    ब्लॉगर्स मीट वीकली में आप सादर आमंत्रित हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  25. कल 30/08/2011 को आपके दिल की बात नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  26. जो सुख-दुख में सहभागी हों,
    वो मिलते हैं किस्मत से,
    स्वर्ग, नर्क सा लगने लगता,
    मन का मीत न पाने पर |
    मन के भाव को बहुत खूबसूरती से व्यक्त करती बहुत खूबसूरत रचना |

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails