"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

यह ब्लॉग खोजें

समर्थक

रविवार, 19 अप्रैल 2009

"कुछ तो बतलाओ?" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)



मरुथल सुन्दर सा लगता है, उनके आने से।

घर भी मन्दिर सा लगता है, उनके आने से।।

मन में शहनाई सी बजती, उनके आने से।

गालों पर अरुणाई सजती, उनके आने से।।

बिन बादल वर्षा आ जाती, उनके आने से।

सूखी सरिता सरसा जाती, उनके आने से।।

पतझड़ में हरियाली आती, उनके आने से।

मौसम में खुशहाली आती, उनके आने से।।

कौन कहाँ के वासी हो कुछ तो जतलाओ?

एक शब्द में अपना परिचय तो बतलाओ ।।


9 टिप्‍पणियां:

  1. पहली बार सस्पेंस कविता पढ रहा हूं शास्त्री जी।

    उत्तर देंहटाएं
  2. rachna to bahut hi sundar hai aapke dil ke har jazbaat ko darshati hai.

    उत्तर देंहटाएं
  3. कौन कहाँ के वासी हो कुछ तो जतलाओ?
    एक शब्द में अपना परिचय तो बतलाओ ।।
    Sunder kavita ke liye,
    Aabhaar...

    उत्तर देंहटाएं
  4. मरुथल सुन्दर सा लगता है, उनके आने से।
    घर भी मन्दिर सा लगता है, उनके आने से।।

    बहुत सुंदर कविता।

    उत्तर देंहटाएं
  5. पहेली मय कविता लग रही है? बहुत सूंदर.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails