"उच्चारण" 1996 से समाचारपत्र पंजीयक, भारत सरकार नई-दिल्ली द्वारा पंजीकृत है। यहाँ प्रकाशित किसी भी सामग्री को ब्लॉग स्वामी की अनुमति के बिना किसी भी रूप में प्रयोग करना© कॉपीराइट एक्ट का उलंघन माना जायेगा।

मित्रों!

आपको जानकर हर्ष होगा कि आप सभी काव्यमनीषियों के लिए छन्दविधा को सीखने और सिखाने के लिए हमने सृजन मंच ऑनलाइन का एक छोटा सा प्रयास किया है।

कृपया इस मंच में योगदान करने के लिएRoopchandrashastri@gmail.com पर मेल भेज कर कृतार्थ करें। रूप में आमन्त्रित कर दिया जायेगा। सादर...!

और हाँ..एक खुशखबरी और है...आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।

फ़ॉलोअर

शुक्रवार, 5 जून 2009

"आभार के दो-शब्द"


सम्मानित ब्लागर साथियों!

कल पी.सी.मुदगल उर्फ
‘ताऊ रामपुरिया’ ने अपने ब्लॉग
पर मेरा साक्षात्कार
प्रकाशित किया था।

जिस प्रकार आप मेरे ब्लॉग्स
‘‘उच्चारण’’ , ‘‘शब्दों का दंगल’’ और ‘‘मयंक’’ पर मेरी रचनाओं को समय-समय पर बड़ी सहृदयता से उदारतापूर्वक अपना अमूल्य समय लगाकर टिप्पणी करके अपना प्यार देते हैं उसी प्रकार आपने इसका भी स्वागत स्वागत किया।
इसके लिए मैं अपने अन्तरतम् की गहराइयों से आप सबका आभार व्यक्त करता हूँ।
आशा है कि भविष्य में भी आपका प्रसाद मुझे इसी भाँति मिलता रहेगा।
साथ ही साथ मैं पी.सी.मुदगल उर्फ ‘ताऊ रामपुरिया’ के प्रति अपनी कृतज्ञता भी प्रकट करता हूँ।

धन्यवाद सहित-
' आपके स्नेह का आकांक्षी'

5 टिप्‍पणियां:

  1. आभार का आभार व्यक्त करने के लिए आपका आभार व्यक्त करता हूँ. साथ ही इस पोस्ट की वजह से मुझे ताऊ जी का वास्तविक नाम पता चल पाया, इसके लिए भी आभारी हूँ आपका....

    साभार
    हमसफ़र यादों का.......

    जवाब देंहटाएं
  2. ताऊ ने हमसे भी बात की थी मगर हम तो आभार व्यक्त करना ही भूल गये थे उनका. घर के घर मे क्या आभार देते.. :)

    जवाब देंहटाएं
  3. आप वाकई बहुत ही विनम्र इंसान हैं. आपसे मिलकर बडा आनंद आया. बहुत धन्यवाद आपका.

    रामराम.

    जवाब देंहटाएं
  4. yeh to aapka badappan hai shastri ji.......aap sach kafi mahan vyaktitv hain.tau ji ka bhi aabhar jo unhone aapse hamein parichit karwaya.

    जवाब देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails